Disadvantage of Rooting [Hindi]

रूटिंग के नुकसान

अगर आप एंड्राइड स्मार्टफोन का बहुत समय से इस्तेमाल कर रहे हैं। तो आपने एंड्रॉयड रूट के बारे में जरूर सुना होगा। यह एक एसी प्रोसेस है जिसमें आपको एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम कोड के रूट एक्सेस को अटेंड करने की परमिशन मिल जाती है , मोबाइल को रूट करके आप उसके ऑपरेटिंग सिस्टम से छेड़छाड़ कर सकते हैं।

Cons or Disadvantage of Rooting

हर एंड्राइड स्मार्टफोन को रूट करने के तरीके अलग अलग होते हैं, और थोडा थे टेक्निकल भी होता है।

रूटिंग डिवाइस में ऐसे सॉफ्टवेयर को डाल सकते हैं जिस की परमिशन मैन्यूफैक्चर नहीं देता है। ऐसा इसलिए क्योंकि इससे आपका मोबाइल खराब भी हो सकता है।

फ़ोन को रुट करने की जितने फायदे है उतने ही नुकशान भी है।

तो जानिए आज की इस आर्टिकल में मै आपके फ़ोन को रुट करने के क्या – क्या नुकशान हो सकते है उस पे चर्चा  करेंगे ।

यह भी देखें

हमने पिछली आर्टिकल में आपको बताया था कि रूटिंग करने के क्या-क्या फायदे हैं। और इस आर्टिकल में हम आपको बता रहे हैं कि एंड्रॉयड रूट करने के क्या क्या नुकसान है। वैसे इसके ज्यादा नुकसान नहीं है लेकिन कुछ बातों को ध्यान में रखकर आप अपने मोबाइल को रूट कीजिए। यह आपके लिए फायदेमंद होगा।

#1. ब्रिकिंग

Cons or Disadvantage of Rooting

यहां ब्रेकिंग का मतलब टूटना , कनेक्शन टूटना से है। अगर आप अपने मोबाइल को रूट करते हैं चाहे आप सही ढंग से कर रहे हो या प्रॉपर तरीके से कर रहे हो। लेकिन कई बार क्या होता है कि आपका मोबाइल रूट होते समय डेड हो जाता है। रूट के दौरान बंद हुआ मोबाइल ठीक नहीं हो पाता है। और ना ही यह है वारंटी में रहता है इसलिए कंपनी भी इसको नहीं बदलती है।

#2.Ad Blocking

Cons or Disadvantage of Rooting

आप सोचते होंगे कि जो ऐड आती है उनका सिर्फ काम पैसे कमाना है। लेकिन डेवलपर इनको कुछ और तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए डेवलपर ज्यादातर मोबाइल में दिखाई जाने वाली ऐड को उनके सिस्टम अपग्रेड के लिए इस्तेमाल करता है ताकि आपको अच्छी सी अच्छी अप्लीकेशन प्रोवाइड की जा सके और उनको अपग्रेड किया जा सके।

#3.Security Risks

Cons or Disadvantage of Rooting

अगर आप अपने एंड्रॉयड मोबाइल को रूट करते हैं। तो आपके सिक्योरिटी कम होने के चांसेस बढ़ जाते हैं। अगर आपका मोबाइल रूट है तो कोई भी हैकर इस को आसानी से हैक कर सकता है। अगर आप अपने रूटेड मोबाइल से अपना कोई बैंक का खाता या बैंक की एप्लीकेशन चलाते हैं तो यह आपके खाते की सुरक्षा को भी लीक कर सकता है।

#4.अपडेट्स

Cons or Disadvantage of Rooting

अगर आप अपने मोबाइल को रुट करते हैं तो उसके बाद आप कंपनी के ऑफिशियल साइट से मोबाइल को अपडेट नहीं कर पाएंगे। इसके लिए आपको अलग से फाइल डाउनलोड करके अपने मोबाइल को अपडेट करना होगा। यह सबसे बड़ी प्रॉब्लम होती है कि आपको नए फीचर नहीं मिल पाते हैं जब कंपनी अपडेट करती है।

#5.Warranty

Cons or Disadvantage of Rooting

एंड्रॉयड मोबाइल को रूट करना गैरकानूनी होता है। क्योंकि इसमें आप कंपनी के द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों का पालन नहीं करते हैं जिसकी वजह से आपके मोबाइल की वारंटी खत्म कर दी जाती है। लेकिन सिर्फ मोटो कंपनी के मोबाइल में अगर आप मोबाइल डिवाइस को रूट भी करते हैं तो आपको आपके मोबाइल की वारंटी खत्म नहीं की जाती है।

#6.Google Services

google duplex

गूगल के कुछ ऐसे सर्विस है जो आप उसका पैदा नहीं उठा पाएंगे , फ़ोन को रुट करने के बात आप गूगल के कुछ सर्विस का आनद नहीं ले पाएंगे हलाकि ऐसा बहुत ही काम सर्विस है गूगल के पास इसलिए आप इसका चिंता ना करे।

 

तो रुट करने से पहले 100 बार सोचे फिर रुट करे। ये जानकारी आपको कैसी लगी जरूर बताये इसमें से आप को कौन – कौन से जानकारी पहले से पता थी आप जरुरुर बताये कमेंट box पे .

#तो यह थे रूटिंग के नुकसान के बारे में , अगर जानकारी पसंद आये तो शेयर कर दो यार दुसरो को भी मदद मिल सके आपके एक शेयर किसी का मोबाइल को बचा सकता है।

Notes:-

तो मुझे उम्मीद है आपको समझ आ गया होगा  कि रूटिंग के नुकसान  क्या  होता  है। अगर आपके कोई प्रश्न या सुझाव हैं, तो आप नीचे दिए गए Comments Box  में अपनी राय दे सकते हैं। ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिले ।

और सोशल मीडिया पर  DeemTab को फॉलो करना न भूलें, और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप वेबसाइट और YouTube चैनल पर जा सकते हैं।

Cons or Disadvantage of Rooting

अगर आपको आर्टिकल पसंद आया और यह आपके लिए उपयोगी हुआ  – तो आप अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ।

आज के लिए, अभी के लिए
अलविदा……।

2 Replies to “Disadvantage of Rooting [Hindi]”

Leave a Reply

Your email address will not be published.